ससुर बने साजन (sasur bane sajan) compleet

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit webvitaminufa.ru
raj..
Platinum Member
Posts: 3402
Joined: 10 Oct 2014 01:37

Re: ससुर बने साजन

Unread post by raj.. » 29 Oct 2014 02:55

ससुर बने साजन पार्ट --2

गतान्क से आगे.............

शालु - हां भाभी कहो क्या बात है

मैं - दीदी क्या कर रही हैं आप

शालु - कुछ भी नही आप बात तो बताओ

मैं - दीदी एक मज़े की बात है अगर कहो तो तुम्हारी तमन्ना पूरी करवा दूँगी

शालु - बताओ भी भाभी क्या बात है पहेलियाँ मत बुझाओ

मैं - दीदी मोम , नीरज उसकी वाइफ और तुम्हारे बड़े भैया कोई भी घर

पे नही है 15 दिन के लिए सिर्फ़ मैं अकेली हूँ घर पे बाबूजी के साथ

और रात तो मैने उनके लंड के दर्शन भी कर लिए हैं ओर अब उसे पाने

का प्लान भी बना लिया है अगर तुम भी चाहती हो तो आ जाओ आज बोलो

क्या कहती हो

शालु - सच भाभी मैं आज ही पहुँच जाउन्गि.

मैं - लेकिन घर पे क्या कहोगी एक बात सुनो मैं तुम्हारी बाबूजी से

बात करवाती हूँ जब वो तुम्हे बताएँगे कि घर पे कोई नही है तो तुम

कहना कि बाबूजी अगर आप कहों तो मैं आ जाती हूँ 10 दिन के लिए

बाबूजी मान जाएँगे फिर तुम कहना के आप उनको एक बार कह दो इसी

बहाने मैं भी आप के पास 10 दिन रह जाउन्गि. शादी पे तो मैं आप के

पास ठीक से बैठ भी नही पाई और आप से कोई बात भी नही कर पाई.

कहना मैने तो यू ही फ़ोन. किया था हालचाल पूछने के लए.

शालु - ठीक है भाभी बात कर्वाओ मेरी बाबूजी से

तभी बाबूजी नहा के आ गये ओर मैने फ़ोन. उन्हे दे दिया ओरकहा कि

शालु दीदी आप से बात करना चाहती है. जब बाबूजी ने बताया के घर

पे कोई भी नही है तो शालु दीदी ने वही कहा जो मैने उसे समझाया

था तो बाबू जी ने कहा कि वहाँ घर पे खाना वग़ैरा कौन बनाएगा तो

उसने बता दिया कि घर पे सासू मोम और उसकी छोटी ननद भी है जो

छुट्टियो मैं आई हुई है ओर अभी 15-20 दिन यही रहेगी तो बाबूजी ने

कहा कि ठीक है मेरी बात कर्वाओ.वैसे भी बाबूजी शालु दीदी से बहुत

प्यार करते थे और वो उनकी लड़ली बेटी थी. शालु दीदी ने फ़ोन. जीजा जी

को दे दिया ओर बाबूजी के कहने पे वो दीदी को भेजने के लिए राज़ी हो गये.

मैने बाबूजी को खाना बना के दिया ओर वो खा के शॉप पे चले गये और

मैं घर के काम मैं बिज़ी हो गई करीब 2 बजे के करीब शालु दीदी

भी आ गई और आदर आते ही मुझसे बोली है भाभी पहले ये बताओ के

आप ने वो कमाल कैसे किया

raj..
Platinum Member
Posts: 3402
Joined: 10 Oct 2014 01:37

Re: ससुर बने साजन

Unread post by raj.. » 29 Oct 2014 02:56

मैने कहा कि कॉन सा कमाल तो बोली कि ज़यादा

भोली मत बनो ये बताओ कि बाबूजी के लंड का दीदार कैसे किया मैने

कहा कि बताती हूँ पहले थोड़ा सबर करो कोई चाइ पानी तो पी लो तो

बोली की नही पहले मुझे बताओ तो मैने उसेकहा कि इतनी उतावली क्यो

होती हो दीदी अगर अभी सब कुछ जान लोगि तो सस्पेंस क्या रहेगा मैं

बता दूँगी आप को आप फिकर क्यो करती हो बस ये जान लो कि रात मैने

उनके लंड का दीदार कर लिया है ओर उसे छू के भी देखा है और उसे

चूसा भी है तो वो बोली है भाभी आप तो सच मैं कमाल की चीज़ हो

एक ही दिन मैं मोर्चा मार लिया अब बताओ कि आगे का प्लान क्या है. मैने

उससे कहा कि कल हम बाजार चलेंगे और आगे के प्लान पे काम शुरू कर

देंगे तो वो बोली कि फिर मुझे आज ही क्यो बुलाया तो मैने कहा कि

धीरज रखो आगे आगे देखो होता है क्या. मैने कहा कि आज तुझे

भी बाबूजी के लंड के दर्शन करवा दूँगी ओर उसे छूने का सोभाग्य भी

दिलवा दूँगी तो उसने मुझे बाहों मैं भर लिया और मेरा मूह चूम के

बोली थॅंक यू भाभी पर एक बात बताओ आप तो कहती थी कि भैया को

धोखा नही दोगि फिर ये इरादा कैसे बन गया तो मैने कहा कि दीदी उस

दिन आप ने बाबूजी के लंड की तारीफ ही इतनी की थी के मुझे सारी रात

वो ही बातें सताती रही ओर सोने नही दिया उसके बाद तो रोज रात मे

मुझे आप दिखाई देती थी सपने मैं बाबूजी के लंड को देख के खुश

होती हुई बस फिर मैने मन बना लिया कि मैं भी उसे देख के ही दम

लूँगी ओर उसका मज़ा भी लूँगी ओर आप को भी मज़ा दिलवाउंगी तो वो बोली

भाभी आप बहुत अच्छी हो तो मैने कहा कि दीदी अब मस्का मत लगाओ और

फिर हम आपस मैं बातें करने लगी.

रात 8 बजे के करीब बाबूजी घर आ गये ओर उन्होने खाना खाया और

फिर हम तीनो बैठ के आपस मे बातें करने लगे. करीब 9.30 बजे

मैने पूछा कि बाबूजी आप को दूध अभी ला दू या बाद मैं मुझे नींद

आ रही है तो वो बोले कि ला दो बहू मुझे भी नींद आ रही है.

बाबूजी बोले शालु बेटी तुम कहाँ सोओगी तो वो बोली के मैं भाभी के

पास ही सो जाउन्गि फिर मैं दूध लेने चली गई.मैने दूध गरम किया ओर

बाबूजी के दूध मैं 2 नींद की गोलियाँ मिला के मिक्स किया और शालु दीदी को

आवाज़ लगाई तो वो किचॅन मैं आ गई तो मैने कहा कि आप भी अभी

पिएन्गि या बाद मैं तो वो बोली के अभी दे दो तो मैने कहा के नही हम

बाद मैं पी लेंगे पहले ये दूध बाबूजी को दे दो ओर हाँ एक बात का

ख्याल रखना कि वहीं पे बैठ जाना जब वो दूध पी लें तो ये गिलास ले

आना अगर वो बोले के मैं बाद मैं पी लूँगा तो कहना भाभी अभी

हमारे लिए दूध गरम कर रही है तब तक आप पी लीजिए वो ये गिलास

भी अभी धो के रख देगी भाभी कह रही थी कि कल भी बिल्ली ने

गिलास तोड़ दिया है एक जो उनके रूम मे पड़ा था.वो बोली के अभी क्यो

पीना है वो बाद मैं पी लेंगे मैने कहा कि वो करो दीदी जो मैं

कहती हूँ फिर आगे के बारे मैं भी बताती हूँ वो बोली ठीक है ओर

दूध ले कर चली गई ओर बाबूजी को वोही बोली जो मैने कहा था.

raj..
Platinum Member
Posts: 3402
Joined: 10 Oct 2014 01:37

Re: ससुर बने साजन

Unread post by raj.. » 29 Oct 2014 02:58

मैं

किचन मे ही खड़ी उसका वेट करने लगी मैने उसे कहा था कि मैं

किचॅन मे ही हूँ बस तुम दूध पीला के जल्दी से वापिस आ जाओ.

मैं किचॅन मे ही शालु दीदी का वेट कर रही थी कि तभी वो दूध

पिला के आ गई तो मैने कहा के लो अब आप भी दूध पिओ ओर मैं भी पी

लेती हूँ फिर कोई 15 मिंट तक हम दोनो किचॅन मे ही बातें करते

रहे ओर फिर गिलास धोने के बाद मैने उसे कहा कि देखो बाबूजी क्या

कर रहे हैं तो वो बोली कि टीवी देख रहे थे मैने कहा कि अब देखो

क्या कर रहे हैं और हाँ चुपके से देखना तो वो देखने चली गई और

वापिस आ के बोली कि भाभी वो तो सो रहे हैं. उन्हे दूध पिए 25 मिंट के

करीब हो गये थे ओर मैने केमिस्ट से पूछ लिया था कि ये अगर कोई दो

गोलिया ले ले तो 20 या 25 मिंट मैं पूरी तरह सो जाता है ओर फिर 2 अवर

तक वो नही उठते आप जो मर्ज़ी शोर मचा लो उसके पास. मैने गोलियाँ

ये कह के ली थी कि मुझे नींद नही आती है. अब मैने शालु दीदी को

कहा कि चलो मेरे साथ और मैं उन्हे पकड़ कर बाबूजी के रूम मे ले

गई. मैं बाबूजी के बेड पे चढ़ गई तो दीदी मुझे देख रही थी मैने

बेझीजक बाबूजी की लोवर नीचे की ओर उनका लंड बाहर निकल आया आज

भी बाबूजी ने सिरफ़ लोवर ही पहन रखी थी. दीदी देख के डर गई कि

भाभी बाबूजी उठ जाएँगे आप ये क्या कर रही हो तो मैने कहा कि

फिकर मत करो नही उठेंगे मैं हूँ ना तुम मेरे पास आओ तो वो भी

मेरे पास आ गई मैने कहा कि लो इसे छू के देखो अब हमारा हाथ

लगने के बाद बाबूजी का लंड टाइट होने लग गया था ओर पूरे जोबन पे

आने को तैयार था. शालु दीदी तो उसे देख कर पागला सी ही गई थी ओर

कह रही थी हाई भाभी ये तो बहुत ही कमाल का है ओर पागलों की तरह

उसे चूमने लगी और चूसने लगी . करीब 15 मिंट तक हम दोनो ने उसे

जी भर के चूसा ओर फिर मैने दीदी को कहा के अब चलो वरना ये पानी

छोड़ देगा ओर बाबूजी उठ जाएँगे तो दीदी बोली के नही भाभी मेरी तो

चूत पे खुजली हो रही है मैं तो लंड का मज़ा ले कर ही जाउन्गि.मैने

कहा कि दीदी आप इतनी उतावली क्यो हो रही हैं आप ने सुना ही होगा कि

हमेश ठंडा कर के खाना चाहिए वरना मूह जल जाता है तो वो बोली

कि मेरा क्या मूह जलेगा मेरी तो चूत जल रही है भाभी तो मैने कहा

कि एक बात तो है कि अगर तुम अभी मज़ा लोगि तो एक तो बाबूजी जाग जाएँगे

दूसरा सोते हुए इंसान का लंड उतना जोश मैं नही होता जितना जागते हुए

का होता है मेरे होते हुए चिंता मत करो तुम्हे लंड का मज़ा भी

मिलेगा इंतजार तो करो थोड़ा अगर एक बार ये तुम्हारी चूत मे घुस गया

तो फिर तुम वो आनंद कभी नही पा सकोगी जिसके लिए तुम इतनी उतावली हो

ओर बात उसकी समझ मैं आ गई ओर वो उठ खड़ी हुई मैने बाबूजी की

लोवर को वैसे ही खुली हुई छोड़ दिया ओर उनके लंड को बाहर ही छोड़ दिया